उत्तरप्रदेशबिजनौर
Trending

लेंटर के मलबे मे दबने से दो मजदूरों की मौत, गांव में कोहराम मचा, मौके पर पहुंचे सीओ किया मौका मुआयना

पुलिस और ग्रामीणों ने कड़ी मशक्क्त के बाद दोनो को मलबे से निकाला

बिजनौर लेंटर के मलबे मे  दबने से दो मजदूरों की मौत हो जाने से उनके परिवारों कोहराम मच गया। जिसके पुलिस ने दोनो के शवो को पोस्टमार्टम के लिए बिजनौर भेज दिया।
बुधवार को गांव शहजादपुर मे मस्जिद के समीप मुफीद पुत्र लतीफ के पुराने मकान के लेंटर को गांव के ही मजदूर मोनू पुत्र कलवा, वकील पुत्र मिद्दू, सहीम पुत्र नसीम, सलीम पुत्र मसीता  हथोड़े की मदद से तोड़ रहे थे। तभी दिन के लगभग 2 बजे लेंटर अचानक पलट गया। जिससे इस हादसे मे मोनू 26 वर्ष और वकील उम्र 45 वर्ष मलबे मे दब गये। जिसके बाद यहाँ चीख पुकार मच गई। थोड़ी के बाद ही ग्रामीण और नांगल थाना प्रभारी श्यामवीर सिंह, दरोगा देवनंद सैनी पुलिस बल के साथ मोके पर पहुंच गये। जिसके पुलिस और ग्रामीण मजदूरों को मलबे से निकालने मे जुट गये। बल्लियों और जैकों के मदद से पहले मोनू को लेंटर के मलबे से बहार निकाला गया, जिसे घायल अवस्था मे सरकारी एम्बुलेंस की मदद से सरकारी अस्पताल समीपुर भेजा गया, जहा चिकित्स्कों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मोनू के बाद कड़ी मशक्क्त से वकील को लेंटर के मलबे से बहार निकाला गया, जिसे पुलिस और ग्रामीण नांगल के निजि चिकित्सक के पास ले गये, जहां वकील को चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद दोनो परिवारों मे कोहराम मचा हुआ है। घटना के बाद सी ओ गजेंद्रपाल सिंह ने घटना स्थल का दौरा किया।
Print Friendly, PDF & Email

Related Articles

error: Content is protected !!
Close